Latest News National

कुलभूषण जाधव के माँ और पत्नी से पाकिस्तान के व्यवहार से भारत नाखुश

पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी ने सोमवार को इस्लामाबाद में उनसे मुलाकात की. ये मुलाकात एक औपचारिकता ही रही, क्योंकि कुलभूषण और परिवार के बीच शीशे की दीवार थी. लेकिन अब और भी चौंकाने वाले तथ्य सामने आ रहे हैं. इस्लामाबाद में कुलभूषण के परिवार के साथ की गई बदसलूकी पर भारत ने पाकिस्तान को कड़ी लताड़ लगाई है.

कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी के साथ पाकिस्तान ने जी भरके जलील किया है. भारत के विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को बयान जारी करते हुए कहा कि कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी से मुलाकात के दौरान भारतीय संस्‍कृति और धार्मिक भावनाओं का ख्‍याल नहीं किया. विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता रवीश कुमार ने कहा कि मुलाकात से पहले कुलभूषण जाधव की पत्‍नी और मां की चूडि़यां, बिंदी और मंगलसूत्र उतरवाए गए. उनके कपड़े बदलवाए गए. उनके जूते वापस नहीं हुए

मंगलवार को भारतीय विदेश मंत्रालय ने कुलभूषण जाधव मुद्दे पर प्रेस कांफ्रेंस की. MEA प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि पाकिस्तानी अधिकारियों की तरफ से कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी के कपड़े बदलवाए गए, प्रेस को उनके करीब आने दिया. साथ ही कुलभूषण जाधव को उनके परिवार के साथ मराठी में बात भी नहीं करने दी गई.

रवीश कुमार ने बताया कि मुलाकात से पहले दोनों देशों के अधिकारी संपर्क में थे, सभी कुछ पहले ही तय कर दिया गया था. इसके बावजूद पाकिस्तान की ओर से मुलाकात की तय बातों का उल्लंघन किया गया. कुलभूषण के परिवार के पास पाकिस्तानी प्रेस को आने दिया गया, जो कि उनपर झूठे आरोप वाले सवाल दाग उन्हें परेशान कर रहे थे. जबकि दोनों देशों के बीच यह तय था कि मीडिया को पास आने नहीं दिया जाएगा.

पाक को लताड़ लगाते हुए रवीश कुमार ने कहा कि सुरक्षा के नाम पर कुलभूषण की पत्नी-मां के मंगलसूत्र, बिंदी, कपड़े तक को बदलवा दिया गया. जब भी वो कुलभूषण की मां अपने बेटे से अपनी भाषा मराठी में बात करने की कोशिश करती थी, उन्हें बार-बार टोक दिया जाता था. यहां तक की उनके जूते भी नहीं लौटाए गए.

विदेश मंत्रालय ने कहा कि बैठक से पहले भारत के डिप्टी हाई कमिश्नर जेपी सिंह को मुलाकात से अलग किया गया, जबकि ये पहले से ही तय था कि वे मौजूद रहेंगे. हालांकि, भारतीय अधिकारियों के टोकने के बाद उन्हें शामिल होने दिया गया. उन्होंने बताया कि कुलभूषण जाधव काफी चिंताजनक और परेशानी वाली स्थिति में हैं.

कुलभूषण जाधव के परिवार के साथ पाकिस्तान की इस कारिस्तानी से सरबजीत सिंह की बहन दलबीर कौर काफी नाराज हैं न्यूज एजेंसी ANI के साथ बातचीत में दरबीर कौर ने कहा, ‘ पाकिस्तान वही ड्रामेबाजी कर रहा है जो उसने सरबजीत के साथ किया था. जब हम दोबारा सरबजीत से मिलने गए थे तो वहां के विदेश मंत्रालय ने कहा था कि वे नहीं जानते हैं कि सरबजीत कहां है. इस बार पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव से उसकी मां और बहन को सीधे मिलने भी नहीं दिया.’

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान की जेल में कथित रूप से जासूसी के मामले में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के साथ इस्लामाबाद में विदेश मंत्रालय में उनकी पत्नी और मां ने मुलाकात की थी, लेकिन उनके बीच कांच की एक दीवार थी. पिछले साल मार्च में गिरफ्तारी के बाद से जाधव की उनसे यह पहली मुलाकात है. करीब 40 मिनट की मुलाकात भारी सुरक्षा वाले विदेश मंत्रालय की इमारत में हुई. हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय अदालत ने मई में पाकिस्तान से जाधव को सुनाई गयी मौत की सजा पर रोक के लिए कहा था.

भारत का एतराज
– भारत की ओर से इस मुलाकात के तरीके पर एतराज जताया गया है.
– कुलभूषण जाधव को मां व पत्नी से मराठी में बात नहीं करने दी गई.
– जाधव की पत्नी और मां से गहने, बिंदी आदि उतरवा ली गई थीं.
– दोनों के कपड़े तक बदलवा दिए गए थे और बीच में थी कांच की दीवार.
– जाधव की पत्नी के जूते अब तक वापस नहीं किए गए हैं.
– डिप्टी हाई कमिश्नर को भी अलग करने पर भारत का एतराज
– वीडियो बनाया गया, रिकॉर्डिंग की गई फिर बीच में कांच की दीवार क्यों
– बिंदी, मंगलसूत्र और चूड़ियां उतरवाना धार्मिक आस्था के खिलाफ

भारत की चिंता
– जाधव के चेहरे पर चोट से निशान दिख रहे थे, आशंका है कि उनको टॉर्चर किया जाता है.
– बातचीत से लगता है कि वे तनाव में हैं और सही माहौल नहीं मिल पा रहा है.
– उनके स्वास्थ्य को लेकर भी भारत की चिंता है.

(6) Views

Facebooktwitterredditpinterest

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*